Breaking News

एनकाउंटर में ढेर हुए सिमी के 8 आतंकवादी, गार्ड की हत्या कर भागे थे सेंट्रल जेल से View More - पूर्व पीएम इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर राहुल गांधी ने पार्टी मुख्यालय से इंदिरा गांधी मेमोरियल तक पैदल मार्च की । View More -

Headlines

बच्चों को प्रारम्भिक जीवन से अच्छे संस्कार एवं उचित मार्गदर्शन दिया जाए तो वे आगे चलकर एक आदर्श समाज एवं राष्ट्र के नवनिर्माण में अहम भूमिका निभा सकते हैं - कप्तान सिंह सोलंकी View More -

सिमी के 8 आतंकी भोपाल जेल से गार्ड का मर्डर कर फरार, चादर की रस्सी बनाकर दीवार फांदी

भोपाल. स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के 8 आतंकी भोपाल सेंट्रल जेल से फरार हो गए हैं। आतंकियों ने गार्ड का गला रेता और चादरों की रस्सी बनाकर दीवार फांद गए। बता दें कि मध्य प्रदेश के खंडवा से सिमी आतंकी 3 साल पहले भी ऐसे ही जेल से फरार हो गए थे। इनके ऊपर देशद्रोह का मुकदमा चल रहा था। इस बार भागने वाले आतंकियों में कुछ वे आतंकी भी शामिल हैं जो पहले भाग चुके हैं। कैसे भागे आतंकी... - डीआईजी (भोपाल) रमन सिंह ने कहा- ''रविवार-सोमवार की दरमियानी रात 2-3 बजे के बीच आतंकी भागे।'' - ''आतंकियों ने पहले हेड गार्ड रमाशंकर सिंह की हत्या कर दी। उनका गला रेत दिया। हमले के लिए स्टील की प्लेट और ग्लास का इस्तेमाल किया '' - ''इसके बाद जेल में ओढ़ने के लिए मिली चादरों की रस्सी बनाई। उसी के सहारे दीवार फांदी।'' - बताया जा रहा है कि इसमें से कुछ आतंकी वे भी हैं जो 2013 में खंडवा जेल से भागे थे। उन्हें पकड़ कर यहां लाया गया था। सभी आतंकियों को भोपाल जेल में रखा गया था - 2 अक्टूबर 2013 से सात कैदी भागे थे। - इसके बाद मध्य प्रदेश में जितने भी सिमी के आतंकी अन्य जेलों में थे उन्हें सबको एक जगह लाया गया। - सभी को कड़ी सिक्युरिटी वाले भोपाल सेंट्रल जेल में रखा गया। यहां सिमी के 30 आतंकी रखे गए। इन्हीं में से 8 आतंकी भागे हैं। कौन-कौन आतंकी भागे? शेख मुजीब, खालिद, मजीद, अकील खिलजी, जाकिर, महबूब, अमजद और सलिक। कब खंडवा जेल से फरार हुए थे सिमी के आतंकी - अक्टूबर 2013 में खंडवा जेल से सिमी के छह आतंकी अबू फैजल खान, एजाजुद्दीन अजीजुद्दीन, असलम अय्यूब, अमजद, जाकिर, शेख महबूब और आबिद मिर्जा फरार हो गए थे। - आबिद को कुछ ही देर बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। - अबू फैजल, इरफान नागौरी और खालिद अहमद को एटीएस ने 25 दिसंबर 2013 को सेंधवा पठार के पास से मुठभेड़ के दौरान के गिरफ्तार किया था।

adds