अम्बाला। हरियाणा के श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि भारतीय संस्कृति में तीज-त्यौहारों का विशेष महत्व है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मौसम के अनुसार तीज-त्यौहार निर्धारित हैं। यह तीज-त्यौहार केवल मनोरंजन का माध्यम नही है बल्कि इनका धार्मिक और एतिहासिक महत्व व्यक्ति को सामाजिक बुराईयों को मिटाने में सहयोग करने और समाज सेवा की प्रेरणा भी देता है।

श्री सैनी आज पीकेआर जैन स्नातकोत्तर शिक्षा कालेज में लोहड़ी के उपलक्ष में आयोजित फ्लेम फैस्ट-2018 के अवसर पर उपस्थित विद्यार्थियों और अभिभावकों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने इस मौके पर महाविद्यालय द्वारा प्रकाशित कांशी ज्ञान नामक पत्रिका का विमोचन भी किया। उन्होंने कहा कि जैन शिक्षण संस्थान शिक्षा के क्षेत्र में एक मील पत्थर हैं और इन संस्थानों के माध्यम से बच्चों को गुणात्मक शिक्षा के साथ-साथ नैतिक शिक्षा भी दी जाती है। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों को समाज से कन्या भ्रूण हत्या मिटाने का आहवान देते हुए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम आरम्भ किया था और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा में इस क्षेत्र में सराहनीय कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि आज के दिन इस तरह की अन्य सामाजिक कुरूतियों को मिटाने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने प्रत्येक 20 किलोमीटर के बाद एक कन्या महाविद्यालय स्थापित करने का निर्णय लिया है और मुख्यमंत्री ने गत वर्ष एक साथ सभी 22 जिलों में कन्या महाविद्यालयों का शिलान्यास किया है। इसके अलावा लड़कियों को सुखद व सुरक्षित वातावरण में शिक्षा ग्रहण करने का अवसर देने के लिए विशेष महिला बसें भी चलाई गई हैं। उन्होंने बच्चों द्वारा प्रस्तुत किए गए  सांस्कृतिक कार्यक्रमों की सराहना की। 

इस अवसर पर बच्चों ने नवकार मंत्र से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारम्भ किया और उसके उपरांत सामूहिक नृत्य, पंजाबी गिद्दा, शब्द, टप्पे, लघु नाटिका, भारतीय वेशभूषा पर आधारित फैशन शो इत्यादि कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस मौके पर महाविद्यालय की प्राचार्या डा. मुदिता भटनागर ने विद्यालय की शैक्षणिक, सांस्कृतिक और खेल उपलब्धियों का विस्तारपूर्वक जिक्र किया। इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष जगमोहन लाल कुमार, रितेश गोयल, पार्षद राजेश गोयल, के.के. आनन्द, राज सिंह, कालेज प्रबन्धन समिति के प्रधान सतपाल जैन, उपप्रधान प्रेम भूषण जैन, सचिव प्रो. अशोक जैन, कोषाध्यक्ष दीपक जैन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *