हरियाणा के  वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु आगामी 18 दिसंबर को अपने जन्मदिन पर तीन साल के वेतन से 51 गरीब कन्याओं की शादी करवाएंगे। इन कन्याओं को मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी आशीर्वाद देने के लिए विशेष रूप से गांव खांडाखेड़ी (हिसार) पहुंचेंगे। वित्त मंत्री के इस कार्य से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ मुहिम को एक नई दिशा मिलेगी। वर्तमान सरकार बेटियों को हर क्षेत्र में आगे लाने के लिए प्रयासरत है और इसी दिशा में वित्तमंत्री का यह कार्य मील का पत्थर माना जा रहा ।

  वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु 18 दिसंबर को अपने वेतन से गांव खांडाखेड़ी के परममित्र विद्या निकेतन स्कूल में 51 कन्याओं का कन्यादान करके एक नई परम्परा की शुरुआत करेंगे। कैप्टन अभिमन्यु तीन वर्ष पहले नारनौंद हलके से विधायक चुने गए थे और उन्हें प्रदेश सरकार में वित्त सहित कई अन्य महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेवारी सौंपी गई थी। उन्होंने फैसला लिया कि वित्तमंत्री पद पर रहते हुए जो भी वेतन उन्हें मिलता है, उसे वे अपने ऊपर खर्च न करके उस पैसे को किसी अच्छे सामाजिक कार्य में लगाएंगे। इसलिए कैप्टन अभिमन्यु ने अपने वेतन से जरूरतमंद कन्याओं की शादी करवाने का निर्णय लिया है और मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी इस कार्यक्रम में शिरकत कर कन्याओं को आशीर्वाद देने के लिए पहुंचेंगे। इससे साबित होता है कि प्रदेश के वित्तमंत्री व मुख्यमंत्री बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मुहिम को और आगे ले जाकर उनका मान सम्मान बढ़ा रहे हैं। प्रदेश में गिरते लिंगानुपात को सुधारने के लिए भाजपा की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ मुहिम काफी सार्थक रही। वर्तमान सरकार लड़कियों के लिए अनेक योजनाएं लागू करके लड़कियों को आगे बढ़ाने के पथ पर चल रही है।  

इस कार्यक्रम के सम्बन्ध में वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि बेटियों के मान-सम्मान के लिए वे हमेशा तैयार रहते हैं और वे अपने तीन साल के वेतन से 51 कन्याओं की शादी करवाकर उनका कन्यादान अपने हाथों से करके बेटियों का मान बढ़ाएंगे। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी शिरकत करेंगे। गौरतलब है की कैप्टन अभिमन्यु का परिवार सामाजिक कार्यों को करने में हमेशा तत्पर रहता है और इसकी प्रेरणा उनके स्वर्गीय पिता श्री मित्रसेन आर्य हैं। उन्ही के पद चिन्हों पर चलते हुए कैप्टन अभिमन्यु भी लगातार सामाजिक काम करते हैं। इस वर्ष अपने जन्मदिन पर गरीब कन्याओं की शादी का उनका निर्णय काफी सराहा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *