अंबाला। जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों को फंडिंग मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने बराड़ा में छापामारी की है। इस दौरान दो लोगों को हिरासत में लिया गया। करीब आठ घंटे की पूछताछ के बाद एक को तो छोड़ दिया गया, लेकिन दूसरे को टीम अपने साथ ले गई। पकड़े गए अभियुक्त से 4.92 लाख रुपये के नए व पुराने नोट, एक कार, देसी कट्टा और आठ कारतूस बरामद हुए हैं।

एनआइए की टीम ने बराड़ा में बंसल पैलेस के पीछे स्थित कालोनी में एक कोठी में छापा मारकर बिंजलपुर गांव निवासी मनोज उर्फ विनोद और तंदवाल निवासी हैप्पी को हिरासत में ले लिया। दोनों वहां किराये पर रह रहे थे। जांच एजेंसी को कोठी से 4.53 लाख रुपये की पुरानी करेंसी और 39 हजार रुपये के नए नोट मिले।

 
एनआइए की 20 सदस्यीय टीम ने दोनों से आठ घंटे तक गहन पूछताछ की, जिसके बाद हैप्पी को छोड़ दिया गया, जबकि मनोज उर्फ विनोद को टीम दिल्ली ले गई। बताया जा रहा है कि एनआइए को सूचना मिली थी कि अंबाला निवासी मनोज उर्फ विनोद के भी तार आतंकी फंडिंग मामले से जुड़े हैं।
 

गत जुलाई से ही एनआइए की टीम को उसकी तलाश थी। जांच एजेंसी ने विनोद और हैप्पी से अलग-अलग पूछताछ की। बाद में दोनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई। करीब 60 सवाल पूछे गए, जिसका विनोद सही जवाब नहीं दे पाया।


” देर रात एनआइए की टीम ने रेड की थी और बराड़ा के विनोद को गिरफ्तार करके अपने साथ ले गई है।  एनआइए की टीम जांच कर रही है।

  – अभिषेक जौरवाल, 

   पुलिस अधीक्षक, आंबाला
                                                                                      

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *