फैजाबाद।  त्रेता युग को जीवंत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुनि वशिष्ठ के रूप में पुष्पक विमान सरीखे सजाए गए हेलीकॉप्टर से उतरकर अयोध्या की धरती पर कदम रखने वाले भगवान राम की अगवानी की । 

  इसके पहले अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से श्री राम की शोभा यात्रा शुरू हुई। शोभा यात्रा का समापन मुख्य मार्गों से होते हुये रामकथा पार्क में हुआ। यहीं पर मुख्यमंत्री योगी अादित्यनाथ पहुंचे और पुष्पक विमान से आने के बाद भगवान राम का स्वागत किया।  

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अयोध्या के श्रीराम कथा पार्क में भगवान राम का राज्याभिषेक किया और दीपोत्सव कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस मौके पर राज्यपाल राम नाईक दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व दिनेश शर्मा, केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा भी मौजूद रहे। आज त्रेता युग के तर्ज पर अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. भव्य दीपावली उत्सव में मुख्यमंत्री की पूरा मंत्रिमंडल भी मौजूद हैं। इस दौरान हेलिकॉप्टर के माध्यम से भगवान श्रीराम पर पुष्प वर्षा की गई. वहां मौजूद सैकड़ों लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाए। 
सरयू में 1.71 लाख दीप आसमान के तारों के रूप में जगमगाएंगे। अयोध्या के लोगों ने काशी की देव-दीपावली के बारे में काफी कुछ सुन रखा है इसलिए आरती को लेकर उनमें अधिक उत्साह है। सरयू किनारे की आरती का इतिहास बहुत पुराना नहीं है। 2013 से ही इसकी शुरुआत हुई है, लेकिन तब से प्रतिदिन 11 सौ दीपों से आरती होती आ रही है। महंत राम दास त्यागी जैसे कुछ लोग अलग-अलग आरती के आयोजन भी करते हैं। राम की पैड़ी पर आरती कराने वाले शशिकांत दास बताते हैं कि हर पूर्णिमा पर दीपों की संख्या दोगुनी हो जाती है। 
अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से शोभा यात्रा शुरू। मुख्य मार्गों से होकर रामकथा पार्क में होगा शोभा यात्रा का समापन। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *