एंकर के भाजपा नेता से पूछा कि हनी तो तमाम दावों को खारिज कर रही है। वह खुद को…

पूर्व आईपीएस अधिकारी भाजपा नेता पर बिफरते दिखे। उन्होंने राज्य सरकार पर सवालिया निशान लगाए। कहा कि आपके ही तीन विधायकों ने तब राम रहीम की मदद की थी। वे उसे कोर्ट में लेकर गए थे। 200 गाड़ियां साथ में गई थीं। हेलीकॉप्टर से यात्रा और उसकी करीबी हनीप्रीत इंसा को साथ भेजना भी गलत था। उन्होंने नेता को इसकी जांच कराने की हिदायत दी।

मंगलवार को लाइव टीवी डिबेट शो में एंकर सुमित अवस्थी के साथ हिंदू धर्माचार्य पंडित अजय गौतम, पूर्व आईपीएस अधिकारी रणवीर शर्मा, भाजपा नेता जवाहर यादव, कांग्रेसी नेता शोभा ओझा, हनीप्रीत के पूर्व पति विकास गुप्ता के वकील रहे पंकज भारद्वाज मौजूद रहे। एंकर के भाजपा नेता से पूछा कि हनी तो तमाम दावों को खारिज कर रही है। वह खुद को बेगुनाह बता रही। दंगों में शामिल न होने की बात कह रही है। सरकार की इजाजत से सरकारी गाड़ी में बैठकर जाने की बात कह चुकी है।
पूर्व IPS अधिकारी ने कहा कि जिसे सजा हुई हो, वही पुलिस वैन में जाएगा। वीआईपी ट्रीटमेंट देना और हेलीकॉप्टर से भेजना। हनीप्रीत को साथ भेजना गलत था। सरकार और प्रशासन को इजाजत नहीं देनी चाहिए थी। भाजपा के तीन विधायक डेरा से राम रहीम को कोर्ट छोड़ने आए थे। काफिले के साथ में तकरीबन 200 गाड़ियां थीं। आप उतना बड़ा उन्हें सहयोग दे रहे हैं। देखिए वे कौन लोग हैं, जो अपराधी की मदद कर रहे थे। देखिए आगे क्या हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *