पूर्व पीएम नगर निगम में दिए अपने पते वाले मकान में कई सालों से नहीं रह रहे हैं। इस वजह से मतदाता पुनरीक्षण अभियान के तहत उनका नाम वोटर लिस्ट से हटाया गया है।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का नाम लखनऊ नगर निगम ने वोटर लिस्ट से हटा दिया गया है। अब वह लखनऊ में होने वाले किसी भी चुनाव में वोट नहीं डाल पाएंगे। कई साल से लखनऊ नहीं आने की वजह से उनका नाम वोटर लिस्ट से हटाया गया है। मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान अटल बिहारी वाजपेयी का नाम हटाया गया। अटल बिहारी वाजपेयी लखनऊ के बाबू बनारसी दास वार्ड से वोटर थे। पूर्व प्रधानमंत्री ने आखिरी बार सन 2000 में नगर निगम चुनाव में वोट डाला था। और आखिरी बार 2004 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने यहां से वोट डाला था। नगर निगम जोन-एक के जोनल अधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पूर्व पीएम नगर निगम में दिए अपने पते वाले मकान में कई सालों से नहीं रह रहे हैं। इस वजह से मतदाता पुनरीक्षण अभियान के तहत उनका नाम वोटर लिस्ट से हटाया गया है।

2004 लोकसभा चुनाव के बाद से ही अटल सक्रिय राजनीति से संन्यास ले चुके हैं। वह बाबू बनारसी दास वार्ड के वोटर थे। अटल बिहारी वाजपेयी का वोटर लिस्ट में वोटर क्रमांक 1054 और पता बांसमंडी स्थित हाउस नंबर 92/98-1 लिखा हुआ है। अटल बिहारी वाजपेयी खराब स्वास्थ्य के चलते कई सालों से लखनऊ में नहीं रह रहे हैं। वाजपेयी इस समय लुटियंस जोन स्थित 6-ए कृष्ण मेनन मार्ग पर रहते हैं।
वह अब लोगों से भी ज्यादा नहीं मिलते हैं। हालांकि बीजेपी के वरिष्ठ नेता एल.के. आडवाणी, एम.एम. जोशी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह जैसे बड़े नेता अक्सर उनका हाल-चाल लेने के लिए उनके पास जाते हैं। निकाय चुनाव नजदीक आने के कारण नगर निगम मतदाता सूची सही करने के काम में जोरों से जुटा हुआ है। सभी वार्डों में बूथ लेवल पर अधिकारियों को मतदाता सूची की सही रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया है। बीएलओ को तीसरा सर्वे समाप्त कर अपनी रिपोर्ट देने के लिए 3 अक्टूबर का समय दिया गया है। सभी बीएलओ इस काम में लगे हुए हैं। सूत्रों की माने तो सूची में ऐसे कई लोगों का नाम है जिनके नाम और पते दोनों गलत हैं। ऐसे में वोटर लिस्ट का सुधार नगर निगम के लिए बड़ी परेशानी का सबब बनता जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *