अम्बाला। – हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के  प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री निर्मल सिंह ने जारी वक्तव्य में कहा है कि उत्तरी हरियाणा लोगों की जीवन रेखा दादुपुर नलवी परियोजना को बंद करने का निर्णय प्रदेश की भाजपा सरकार का जनविरोधी तुगलकी फरमान है।

 उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इस गलत फैसले को किसी भी सूरत में स्वीकार नहीं करेगी और इस लड़ाई को लड़ने के लिए किसी भी हद तक लड़ने को तैयार रहेगी । उन्होंने कहा कि 1982 में उन्होंने स्वयं विधायक रहते हुए दादुपुर नलवी नहर का मुददा विधानसभा में उठाया था जिसका समर्थन कुरूक्षेत्र के  पूर्व विधायक साहिब सिंह सैनी ने भी  किया था। इस नहर से प्रदेश के अनगिनत लोगो का भविष्य जुड़ा हुआ है आज हम लगभग 1100 फ़ीट से आ रहे पानी को पी रहे है आने वाले भविष्य में  हमारी पीढ़ियो को जल स्तर जैसी भारी समस्या से जूझना पड़ सकता है जो कि एक विराट समस्या है लेकिन अब वर्तमान खटटर सरकार का इस परियोजना को बंद करने का कदम सरकार के दिवालिया पन को दर्शाता है।

 उन्होंने कहा कि  हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिन्द्र सिंह हुडडा के कार्यकाल में इसी परियोजना को उस समय की उतरी हरियाणा की सबसे बड़ी उपलब्धि बताया गया था। उन्होंने कहा कि जनता के हित में प्रदेश सरकार को यह परियोजना हर हालत में पूरी करनी होगी यह परियोजना उतरी हरियाणा के लोगो का जीवन मरण का सवाल है अगर सरकार अपने इस फरमान से पीछे नही हटी तो एक बहुत बड़े संघर्ष का सामना   करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जब भाजपा की प्रदेश सरकार किसानों की जीवन रेखा समझें जाने वाली  प्रदेश की ही दादुपुर नलवी परियोजना को ही बंद करने का निर्णय ले रही है तो फिर ऐसी सरकार से क्या उम्मीद की जा सकती है कि हरियाणा के किसानों को एसवाईएल नहर का पानी दिलवा पाएगी। यह भी इस सरकार पर सवालिया निशान है उन्होंने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी के अंतर को अब प्रदेश और देश की जनता भली भांति समझ चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *