पुलिस ने हनीप्रीत को खोजने के लिए बॉर्डर पर भी टीम भेज दी हैं। पुलिस को शक है कि वह नेपाल भाग गई है।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसां और आदित्य इंसां हरियाणा में हिंसा भड़काने वालों की लिस्ट में टॉप पर हैं। हिंसा भड़काने वालों की लिस्ट में 43 लोगों के नाम हैं। यह हिंसा उस दिन भड़की थी जिस दिन गुरमीत राम रहीम को बलात्कार के दो मामलों में सीबीआई की विशेष अदालत ने दोषी ठहराया था। 25 अगस्त को राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा संप्रदाय के समर्थकों द्वारा फैलाई गई हिंसा में 38 लोगों की मौत हो गई थी। सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा हरियाणा के सिरसा के डेरा में बाबा को अपने दो अनुयायियों का रेप करने का दोषी ठहराया गया था। दोनों अलग अलग मामलों में बाबा को 10-10 साल की सजा सुनाई गई थी। राम रहीम की मुंबबोली बेटी, जो खुद को पापा की परी बताती थी। वह फरार है। वह बाबा के दोषी ठहराए जाने के बाद वह बाबा के साथ उस हेलिकॉप्टर में भी गई थी जिससे बाबा को पंचकुला से रोहतक जेल ले जाया गया था।

पुलिस ने हनीप्रीत को खोजने के लिए बॉर्डर पर भी टीम भेज दी हैं। पुलिस को शक है कि वह नेपाल भाग गई है। पुलिस ने हनीप्रीत की कथित तस्वीरों को अपनी टीम को दिया है, और अपनी टीमों से कहा है कि वे बुरखा या मुखौटा पहनने वाली महिलाओं पर जरूर नजर रखें। राम रहीम के और भी सहयोगियों की गिरफ्तारी हुई है और हरियाणा पुलिस ने अब उन अनुयायियों की तस्वीरें भी निकाली हैं जो गायब हैं। गायब हुए डेरा कार्यकर्ताओं को पकड़ने के लिए एक नोटिस जारी किया गया है। नोटिस में फोन नंबर, व्हॉट्सऐप नंबर और ईमेल आईडी जारी की हैं।
इसमें कहा गया है कि पंचकुला में हिंसा फैलाने वालों के बारे में अगर कोई भी व्यक्ति कोई जानकारी देगा तो उसकी पहचान को गुप्त रखा जाएगा। ज्यादातर आरोपियों की पहचान हिंसा के दौरान की सामने आई तस्वीरों और वीडियो से की जा चुकी है। उनके हाथों में लाठी, हथियार आदि दिखाई दे रहे हैं। डेरा के प्रवक्ता आदित्य इंसां की राजद्रोह के मामले में तलाश है। उदयपुर के डेरा प्रमुख प्रदीप गोयल और आदित्य इंसां के रिश्तेदार प्रकाश को पुलिस ने हाल ही में गिरफ्तार किया है। उनके बयान के आधार पर पुलिस हनीप्रीत पर और बड़े आरोप लगा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *