चंडीगढ़। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने प्रदेश में साढ़े 3 लाख लोगों को पेंशन से वंचित करने पर हरियाणा सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। साथ ही इस पूरे मामले की आधिकारिक जांच करवाने की भी मांग की है। 


 यहां जारी एक बयान में डॉ. तंवर ने कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय एवं विभाग की लापरवाही के चलते प्रदेशभर में प्रत्येक जिले में 5 से 40 हजार लोगों की पेंशन काट दी गई है जिनमें से अधिकांश बुजुर्ग व विधवाएं हैं। पेंशन कटने से उनके जीवन में रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो जाएगा। 

                     डॉ. तंवर ने कहा कि इतने बड़े पैमाने पर पेंशन कटने से साबित होता है कि आधार लिंक करने में भारी कोताही की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार के खजाने में पैसा नहीं है और इसीलिए सरकार पेंशन देने में मीन-मेख कर रही है जबकि कांग्रेस शासनकाल में पेंशनधारकों की पेंशन को दो-तीन बार बढ़ाया गया था। पेंशन में कटौती से सरकार की नीयत पर शक पैदा होता है।
   उन्होंने कहा कि पहले लोगों ने पेंशन लगवाने के लिए विभागीय अधिकारियों के चक्कर काटे, उसके बाद बैंकों में खाते खुलवाने के लिए धक्के खाए और अब पेंशन दोबारा लगवाने के लिए परेशान होना पड़ेगा। पहले सरकार ने आश्वस्त किया था कि जो बुजुर्ग पेंशन लेने के लिए बैंक जाने में असमर्थ हैं, उन्हें घर बैठे पेंशन दी जाएगी मगर वह भी मूर्तरूप में लागू नहीं हो पाई। एक तरफ बैंक स्टाफ की कमी का बहाना लगाकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं वहीं विभाग को बेसहारा बुजुर्ग लोगों को पेंशन देने में रुचि नहीं है। 
             अशोक तंवर ने कहा कि इस मामले को लेकर सरकार त्वरित संज्ञान ले और अधिकारियों की जांच टीम गठित करके पात्र लोगों को उनकी पेंशन दिलवाए अन्यथा इससे प्रदेश में अराजकता का माहौल बनेगा। पेंशनधारकों की पेंशन पर रोक लगने के कारण उन्हें अगस्त की पेंशन भी नहीं मिल पाएगी क्योंकि पहले उन्हें बाधा हटाने की कसरत करनी पड़ेगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार हठधर्मी छोड़ राजधर्म निभाए और पात्र लोगों को उनके अधिकारों से वंचित न करे अन्यथा कांग्रेस पार्टी इसके खिलाफ आंदोलन करेगी। 
                           डॉ. तंवर ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद पूरे राज्य में अफरा-तफरी का माहौल है। जनसेवा को संकल्प बताने वाली भाजपा ने जनकल्याण का एक भी काम नहीं किया बल्कि जनता को परेशानी में डालने का ही काम किया है जिससे प्रदेश में सरकार के खिलाफ रोष व्याप्त है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *