हासन इन दिनों एक तमिल रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ को होस्ट कर रहे हैं, जिसका हिन्दू संगठन मक्कल कांची विरोध कर रहा है।

 बॉलीवुड सुपरस्टार कमल हासन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स में यौन उत्पीड़न की शिकार मलयालम फिल्म अभिनेत्री का नाम लेकर नई मुसीबत खड़ी कर ली है। राष्ट्रीय महिला आयोग हासन के बयान पर संज्ञान लेते हुए उन्हें नोटिस भेजने पर विचार कर रहा है। हालांकि, कमल हासन ने साफ किया है कि यौन पीड़ित का नाम लेकर उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न की शिकार एक्ट्रेस को चाहें तो द्रौपदी कहिए मगर उसे औरत मत बोलिए। उन्होंने कहा, “फिल्म इंडस्ट्री में किसी भी महिला की सुरक्षा की यह स्थिति क्यों है? भीड़ में मौजूद एक महिला की सुरक्षा मेरे लिए अहम है और मैं उसके लिए कुछ भी कर सकता हूं। यह हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम देखें कि वो सुरक्षित है या नहीं? यह बात सिर्फ एक्ट्रेस के लिए लागू नहीं होती। हम उसका (एक्ट्रेस का नाम) इसलिए समर्थन नहीं कर रहे कि वो एक्ट्रेस है।”

जब कमल हासन से इस बारे में पूछा गया कि आपने यौन पीड़िता ता नाम लिया है तो उन्होंने कहा, “मेरे लिए यह कोई मायने नहीं रखता है कि मैंने उसका नाम लिया है। मीडिया खुद कई बार उसका नाम ले चुका है। नाम मत छुपाइए, ऐसा करना कुछ गलत भी नहीं है। अगर आप उसे द्रौपदी कहना चाहें तो कह लें लेकिन उसे औरत न कहें।”
दरअसल, हासन इन दिनों एक तमिल रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ को होस्ट कर रहे हैं, जिसका हिन्दू संगठन मक्कल कच्ची विरोध कर रहा है। हिन्दू मक्कल कच्ची ने इस बावत चेन्नई में एफआईर दर्ज कराई है और पुलिस से मांग की है कि लोगों की भावनाओं के साथ खेलने के लिए लिए कमल हासन को गिरफ्तार किया जाए। हिन्दू संगठन ने हासन को धमकी भी दी है। इसी मसले पर हासन मीडिया को संबोधित कर रहे थे। इस बीच कमल हासन के घर के बाहर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी गई है।
गौरतलब है कि तमिल और तेलुगु फिल्मों में काम करने वाली एक मशहूर मलयालम फिल्म अभिनेत्री इस साल 17 फरवरी को यौन उत्पीड़न का शिकार हो गई थी, जब उसे कार समेत अगवा कर लिया गया था और कार के अंदर ही उसके साथ दो घंटे तक छेड़छाड़ होती रही थी। बाद में आरोपियों ने उसे रास्ते में छोड़ दिया था और व्यस्ततम इलाके में फरार हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *