मामला तब प्रकाश में आया जब स्थानीय लोगों को लड़की की खोपड़ी बरामद हुई।


हैदराबाद के मैलरदेवपल्ली इलाके में एक पिता को अपनी 16 साल की बेटी का अंतिम संस्कार करने की जगह शव को नाले में बहाना पड़ा। रिपोर्ट के मुताबिक, पिता के पास अंतिम संस्कार के लिए पैसे नहीं थे। घटना मई माह की शुरुआत की बताई जा रही है। DECCAN CHRONICLE के मुताबिक, भवानी नाम की इस लड़की ने सुसाइड किया था, जिसके बाद पिता एस पेंतिया को शव घर के पीछे स्थित नाले में बहाना पड़ा। मामला तब प्रकाश में आया जब स्थानीय लोगों को लड़की की खोपड़ी बरामद हुई।
रिपोर्ट के मुताबिक, पेंतिया के बेटे ने भी दो साल पहले सुसाइड किया था। उस समय पिता को अंतिम संस्कार के लिए 50 हजार रुपए उधार लेने पड़े थे। भवानी को कुछ समय पहले ही एक चोरी के मामले में फंस गई थी। सुसाइड करने के दो दिन पहले उसने पड़ोस से ही एक फोन चुरा लिया था। यह फोन ट्रेस किया गया और भवानी पकड़ी गई थी। घटना के बाद 6 मई को उसने घर पर ही खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसके पिता जब काम से घर लौटे तो उन्हें भवानी लटकी मिली, जिसकी पहले ही मौत हो चुकी थी।
पैसों की किल्लत से जूझ रहे पेंतिया ने रात हो जाने का इंतजार किया और अंधेरे में बेटी के शव को नाले में गिरा दिया। हफ्तों बाद 31 मई को जब कुछ बच्चे इलाके में खेल रहे थे तब उन्हें एक सफेद चीज दिखी, जिससे वो खेलने लगे। इसके बाद लोगों ने पाया यह कोई मानव खोपड़ी (human skull) है। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। तलाशी अभियान के दौरान भवानी की लाश नाले से बरामद हुई। मामले में संदिग्ध हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *