चंडीगढ़। तीन दिन पहले हरियाणा के सोनीपत जिले में जिस तरह से 19 वर्षीय युवती का पहले अपहरण व फिर गैंग रेप के बाद निर्ममता से हत्या की गई वह बेहद शर्मनाक है।  इस सरकार को नींद से जगाने के लिए महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष शोभा ओझा , प्रभारी नीतू वर्मा व प्रदेश महिला अध्यक्ष सुमित्रा चौहान के नेतृत्व में महिला कांग्रेस की टीम पहले सोनीपत में पीड़ित लड़की के परिजनों से मिले तथा उसके बाद पीड़िता को न्याय दिलवाने हेतू मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया व ज्ञापन सौपा। हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की सीनियर उपाध्यक्ष एवम प्रदेश प्रवक्ता चित्रा सरवारा के नेतृत्व में सेकड़ों की संख्या में महिलाओं ने चंडीगढ़ की तरफ कूच किया। चित्रा सरवारा के नेतृत्व में मुख्य रूप से अम्बाला से सुनीता, सत्या भारती, रेखा , रुचि शर्मा,बबली, गीता, पूनम, मनदीप,अंजू वर्मा, संतोष, मंजीत, राजबीर,जस्सी, बिमला,निर्मला,विजय,कमलेश,रेणु बाला, शोभा इत्यदि शामिल थी।

अखिल भारतीय महिला  कांग्रेस कमेटी तथा हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस  रोहतक दुष्कर्म की कड़ी भर्त्सना करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग करती है. प्रदेश में जिस तरह से आये दिन महिलाओं के खिलाफ इस तरह के अपराध बढ़ते जा रहे है और प्रदेश भाजपा सरकार सो रही है।

 प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति दिनोंदिन बिगड़ती जा रही है और पूरी तरह जंगलराज का माहौल है।  आम जनता विशेष रूप से महिलाओं व व्यापारियों में असुरक्षा का वातावरण है।  

राष्ट्रीय अपराध अन्वेषण ब्यूरो के अनुसार वर्ष 2015 में 1070 बलात्कार की घटनाएं हुईं, जिसमें से 204 वीभत्स सामूहिक बलात्कार थे। इसके अलावा प्रदेश में महिलाओं पर शीलभंग करने के इरादे से 1890 हमले व कुल 3151 यौन उत्पीड़न के मामले दर्ज हुए। 
तेजी से बिगड़ रही कानून व्यवस्था व प्रदेश में पनप रहे गैंगवार  राजनैतिक नेतृत्व की नाकामी व सरकार के नाकारापन का प्रमाण है।  प्रदेश में पहली बार अपराधिक माफिया और गैंगवार सुर्खियों में आ रहे हैं, जिससे प्रदेश का छवि खराब हो रही है और दीर्घकालिक नुकसान हो रहा है।
‘एक तरफ ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की बातें’, दूसरी तरफ निरंतर होती गैंग रेप की दुर्घटनाएं। ऐसी दिलदहलाने वाली दरिंदगी हरियाणा की नकारा भाजपा सरकार की क़ानून व्यवस्था की कोताही का परिणाम है! 
महिला कांग्रेस इस ज्ञापन के माध्यम से निन्नलिखित मांग की है।
1.  प्रदेश  के मुख्यमंत्री तथा भाजपा सरकार महिलाओ के विरुद्ध होने वाले अपराधों पर कड़ी करवाई करे।
2. पुलिस प्रशासन को सशक्त तथा सार्थक बनाया जाए ताकि इस तरह की होने वाली घटनाओं पर रोक लगाई जा सके
3.  इन घटनाओं में पीड़ित परिवारों से संवेदन शीलता बनाई जाए व उन्हें इंसाफ दिलवाने में हर संभव मदद की जाए।
4. पीड़िता के परिवार को सुरक्षा मुहहाईया करवाई जाए क्योंकि उन्हे धमकियां दी जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *