अमृतसर। कनाडा के भारतीय मूल के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन ने आज स्वर्ण मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने गुरुद्वारे के गर्भगृह में मत्था टेका। उन्होंने परिक्रमा भी की और कुछ देर बैठे। वह किसी पश्चिमी देश के रक्षा मंत्री बनने वाले पहले सिख हैं।

गुरुद्वारा परिसर में एसजीपीसी ने सज्जन को सिरोपा और स्वर्ण मंदिर की प्रतिकृति और एक तलवार भी भेंट की।


सज्जन सुबह छह बजे के करीब मंदिर पहुंचे और गर्भ गृह में करीब 15 मिनट तक रहे। स्लेटी रंग की पगड़ी और सफेद रंग की कमीज पहने सज्जन ने हरमंदिर साहिब परिसर का एक चक्कर लगाया और परिसर में करीब एक घंटे तक रहे।

 जब सज्जन वहां पहुंचे तब एसजीपीसी के अध्यक्ष कृपाल सिंह पहले से ही मौजूद थे। सज्जन सिख हैं और पंजाब में होशियारपुर जिले का बोम्बेली उनका पैतृक गांव है। इसके बाद कनाडा के रक्षा मंत्री कल चंडीगढ़ जाएंगे जहां वह कनाडा के महावाणिज्य दूतावास के नए कार्यालय का उद्घाटन करेंगे।

हालांकि, सज्जन बुधवार शाम को ही यहां पहुंच गए थे लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा उन्हें खालिस्तानी समर्थक बताने से विवाद हुआ था। 

हवाईअड्डे पर जिला प्रशासनिक अधिकारियों ने उनकी अगुवाई की। श्री गुरु रामदास जी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे के बाहर सज्जन के स्वागत में बैनर लिए कुछ कट्टरपंथी समूह के सदस्य भी खड़े थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *