चण्डीगढ़। हरियाणा के पहले अंतर्राष्ट्रीय लघु फिल्म महोत्सव के दौरान 12 देशों की 17 भाषाओं में 65 फिल्में दिखाई जाएंगी। इसलिए एक मंच पर देश-विदेश की विभिन्न भाषाओं के संगम को देखने का अनोखा अवसर धर्मनगरी कुरुक्षेत्र के लोगों को मिलेगा। 

एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि इस अंतर्राष्ट्रीय लघु फिल्म महोत्सव का आयोजन कुरुक्षेत्र जिला प्रशासन व संस्कृति सोसायटी फॉर आर्ट एंड कल्चरल डेवैलपमेंट के सहयोग से मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर में 13 से 16 अप्रैल,2017 तक किया जाएगा। 

उन्होंने बताया कि हरियाणा की पावन धरा पर पहली बार आयोजित अंतर्राष्ट्रीय लघु फिल्म महोत्सव में 12 देशों से 17 भाषाओं में 65 फिल्में दिखाई जाएंगी। इस दौरान  ताईवान, ईरान, नेपाल, स्पेन, फ्रांस, हरियाणावी, पंजाबी, हिन्दी, मराठी, तेलगू, बंगाली, उर्दू, अंग्रेजी आदि भाषाओं में फिल्में दिखाई जाएंगी। समारोह के पहले दिन की फिल्मों का थीम कला और संस्कृति पर आधारित होगा। इन फिल्मों में से हरियाणवी फिल्म लाडो-बसंती से फिल्म फेस्टिवल की शुरुआत की जाएगी। सायं 3 बजे से लेकर 5.30 तक लघु हिन्दी फिल्म तांडव, आऊच व मोक्ष, स्पेनिश फिल्म कजा रायपिडा, पंजाबी फिल्म ऑन दी बेटेन पथ, हरियाणवी फिल्म सामण का प्रदर्शन किया जाएगा। इसी प्रकार सायं के दूसरे सत्र में टाईम ऑफ डांसिंग, लघु मराठी फिल्म वर्षा व हिन्दी फिल्म झांकी दिखाई जाएगी। रात्रि के सत्र में 7 से 9.15 तक हरियाणवी फिल्म म्हारी धरती-म्हारा मान का लुत्फ दर्शक उठा सकते हैं।

दूसरे दिन के सत्र में फिल्मों की थीम समाजिक मुद्दों पर आधारित होगी। सामाजिक मुद्दों को लेकर सुबह के सत्र में ताईवानी फिल्म मिलीयन स्टार दिखाई जाएगी। दोपहर के सत्र में लघु हिन्दी फिल्म नयी अम्मी, लिविंग आईडल व कबूल, तेलगू फिल्म निशीधी, तमिल फिल्म 93 दॉट आउट, हरियाणवी फिल्म दायरा, फ्रेंच फिल्म एंटोनी दिखाई जाएगी। सायं के सत्र में लघु अंग्रेजी फिल्म द डिसीजन व इन एंड अबोव हार्ट, हिन्दी फिल्म अनोखी, मराठी फिल्म लाईफ ऑफ मुम्बई, हरियाणवी फिल्म मैरिज बाजार व बारेफीट इम्प्रेशन दिखाई जाएगी। सायं के सत्र में ही म्युजिक वीडियो स्क्रीनिंग का प्रोग्राम भी होगा। रात्रि के सत्र में हरियाणवी फिल्म धन पराया का प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि समारोह के तीसरे दिन का थीम बच्चों व युवाओं पर आधारित होगा। इस विषय से सम्बन्धित लघु फिल्मों के सुबह के सत्र में इरानी फिल्म चिल्ड्रन ऑफ हैवेन दिखाई जाएगी। दोपहर के सत्र में लघु हिन्दी फिल्म बैगर्स, बल्यूस, कंचे, बर्थडे गिफ्ट व द स्कूल बैग, पैरिसीयन लघु फिल्म कार्डले, फ्रेंंच फिल्म ए व्हूल वल्र्ड, नेपाली फिल्म खोजी का प्रदर्शन किया जाएगा। दोपहर के दूसरे सत्र में हिन्दी लघु फिल्म बेहना एंड स्माल डिजायर, सवेरा, जीना इसी का नाम है व वाकिंग डिस्टैंस, मराठी फिल्म सावत, अंग्रेजी फिल्म डेजी दिखाई जाएगी। सायं के सत्र में हिन्दी फिल्म स्वाद व द पाव एंड चटनी, मराठी फिल्म याकूब दिखाई जाएगी। रात्रि के सत्र में हरियाणवी फिल्म जर, जोरु और जमीन का प्रदर्शन किया जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल के समापन समारोह में मार्डन सिनेमा थीम पर आधारित लघु फिल्मों को दिखाया जाएगा। सुबह के सत्र में हरियाणवी फिल्म बिन तेरे बेचैन का प्रदर्शन किया जाएगा। इसी प्रकार, दोपहर के सत्र में उर्दू लघु फिल्म द सिक्योरिटी, बंगाली फिल्म लीला, हिन्दी फिल्म हैलो ओ हैलो, लल्लन फरोम अलहाबाद व पिज्जा एमएमएस, अंग्रेजी फिल्म लक्की डे दिखाई जाएगी। अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल का समापन हरियाणवी फिल्म पीहर की चूंदडी व हिन्दी फिल्म वैष्णवी दिखाकर किया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *